भूतिया होटल की कहानी😱 | Haunted Hotel

5/5 - (3 votes)

haunted hotel

यह घटना मेरे ही साथ हुई जब मैं और मेरा दोस्त घूमने के लिए “हनरा” गए हुए थे..

रात का वक्त खत्म होने वाला था हम लोग लखनऊ से सफर करके “हनरा” पहुंचे थे, “हनरा” के लोग दिन के समय काम करते थे, रात में वहां बहुत ज्यादा सन्नाटा रहता था, क्योंकि वहां ठंड बहुत ज्यादा होती है इसलिए वहां लोग रात में निकलना पसंद नहीं करते हैं..

पहाड़ियों का सफर करके हम लोग एक होटल के पास पहुंचे लेकिन वह होटल हमें अच्छा नहीं लगा इसलिए हम दूसरे होटल की तलाश में निकल पड़े जल्द ही हम एक रिजॉर्ट के बाहर पहुंचे_सभी सोए हुए थे_ जब हमने आवाज उठाई तो एक आदमी बाहर निकल कर आया और हमें उसने कमरे दिखाए जो हमें पसंद आए, और हमने वहां रुकने का इरादा कर लिया…

short horror story in hindi

मैंने अपने दोस्त से कहा कि तुम खाना ले आओ.. यह कहकर मैं अपने कमरे की तरफ चलने लगा, जब मैं कमरे के अंदर पहुंचा और अपना सामान सही कर रहा था तो मुझे ऐसा लगा कि जैसे खिड़की से मुझे कोई देख रहा है…

लेकिन जब मैंने बाहर देखा तो वहां तो कोई भी नहीं था मैंने खिड़की के पर्दे ठीक किए, और कमरे के बाहर खड़ा होकर अपने दोस्त के आने का इंतजार करने लगा, इसी बीच मुझे अचानक ही ऐसा लगा जैसे ठीक बगल में ही मेरे कोई खड़ा है और मुझे देख रहा है मैंने पीछे मुड़कर देखा लेकिन वहां तो कोई भी नहीं था, मैंने सोचा यह मेरा भ्रम होगा..

मेरा दोस्त आ गया तो हमने साथ मिलकर खाना खाया, उसके बाद जब मैं अपने कमरे पहुंचा तो क्या देखता हूं कि मैंने जहां पर अपना सामान रखा था वहां पर मेरा सामान नहीं है बल्कि वह बहुत सलीके से अच्छी तरह अलमारियों पर रखा हुआ है_ मुझे बड़ी हैरानी हुई कि ये सब किसने किया होगा…? इस पर मैंने ज्यादा गौर नहीं किया… ठीक है, हो सकता है बेलब्वॉय ने आकर के यह सब कुछ किया हो…

real horror story in hindi

मैं यही सोच रहा था कि अचानक किसी ने दरवाजा खटखटाया जब मैंने दरवाजा खोला तो वहां गेलरी में तो कोई नहीं था, बिल्कुल सन्नाटा…. लेकिन गैलरी की लाइटें खुद-ब-खुद जल-बुझ रही थी, गैलरी में एक जूता पड़ा हुआ था, यह देख कर मुझे डर लगने लगा, क्योंकि अभी 15 मिनट में मेरे अलावा उस गैलरी में कोई नहीं आया था.. तो आखिर यह जूता कहां से आया…?

अचानक मेरी नजर बगीचे में एक बड़े सींग वाले शेर के सिर पर पड़ी, जो मेरे सामने था और उसी समय नीचे से एक बिल्ली ने आकर मेरी तरफ देखा, और छत की तरफ बड़ी तेजी से भाग गई..

यह सब देख मैं बहुत डर गया मैंने अपने दोस्त को फोन करके अपने कमरे बुलाया, जब मेरा दोस्त आया तो जूता वहां पर नहीं था, मैंने उसे सारी बातें बताई, उसने मुझे दिलासा दिया कि तुम परेशान ना हो मैं तुम्हारे कमरे में लेट जाता हूं लेकिन मैंने यह अच्छा नहीं समझा और उसे वापस भेज दिया और फिर अपने कमरे में आकर लेट गया…

मैं थोड़ी थोड़ी नींद में था_ तभी मुझे लगा कि कोई मेरे सर पर हाथ फेर रहा है_ थके होने की वजह से मुझे काफी राहत महसूस हुई, लेकिन मुझे डर भी बहुत लग रहा था जैसे तैसे मैंने वह रात बिताई और सुबह उठकर बेलबॉय को बुलाया, और उससे इन सारी बातों के बारे में पूछा…:

तो उसने बताया कि यहां ऐसा कुछ नहीं है, यह सिर्फ तुम्हारा भ्रम होगा_ हम यहां कई सालों से हैं और आजतक हमारे या हमारे मेहमानों के साथ ऐसा कुछ नहीं हुआ है।

Real Horror story

वो ऐसी बातें इसलिए कर रहा था क्योंकि वह डर रहा था कहीं हम उसका रिजार्ट छोड़ कर ना चले जाएं..

फिर मैंने बेलबॉय को अपने कमरे में जाने से पूरी तरह मना कर दिया। लेकिन मैं दरवाज़ा खटखटाने और रात मे बत्ती जलने-बुझने की बात कैसे भूल सकता था? खैर हमने दिन बिताया और रात को मैं फिर अपने कमरे गया..

मैंने देखा कि मेरा सामान फिर से बड़े अच्छे तरीके से अलमारियों में रखा हुआ है_ यह देख कर मुझे गुस्सा आया क्योंकि मैंने बेलबॉय को मना किया था कि वह कतई मेरे कमरे में ना आए तो उसने मेरा सामान आकर क्यों छुआ..?

उस वक्त रात बहुत हो चुकी थी तो मैंने सोचा कि सुबह उससे पूछ लूंगा… उस रात फिर से किसी ने दरवाजा खटखटाया, डर के मारे मैंने जब दरवाजा खोला तो मुझे वहां कोई नहीं दिखा, और गैलरी की बत्तियां उसी तरह जल बुझ रही थी, जिसे देखकर मेरी सांसे थम सी गई थी और मेरा गला एकदम सूख गया।

मैंने जल्दी से दरवाजा बंद किया लेकिन ऐसा लगा कि कोई अंदर आ गया है_ मैं कहने लगा ” तुम जो भी हो यहां से चले जाओ.. कोई आवाज नहीं आई, थोड़ी देर के बाद मैं अपने बिस्तर पर लेट गया और सोने की कोशिश करने लगा..

लेकिन फिर कल रात की तरह मुझे लगा कि कोई मेरे बालों में हाथ फेर रहा है, वह रात मेरी आखिरी रात लग रही थी। जब सुबह हुई तो मैंने बेलबॉय को बुलाया और थोड़ा गुस्सा हुआ कि मेरे मना करने के बावजूद वह मेरे कमरे में क्यों गया_ उसने बहाने बनाने की कोशिश की, लेकिन मैं काफी जिद्दी था उसके पीछे पड़ गया कि फिर बताओ यह सब मेरे साथ क्या हो रहा है…??

तब उसने मुझे बताया कि यहां एक आत्मा रहती है, जो कभी इस रिजार्ट की मालिक हुआ करती थी, कुछ लोगों ने उसे धोखे से कत्ल कर दिया था, अब उसकी आत्मा इसी रिजार्ट में भटका करती है, लेकिन वह किसी को परेशान नहीं करती है और एक अच्छी आत्मा है ।

इस हादसे के बाद हमने वहां से जाना बेहतर समझा…

This story is all about a ” Haunted Hotel “…



Read more :-

Leave a Comment