लाल जोड़े वाली चुड़ैल😱| Horror Story in hindi

Rate this post

hindi horror story

एक साहब ने यह किस्सा सुनाया उन्हीं की जुबानी आपको सुना रहे हैं…

  ” यह 2001 की बात है कि हम लोगों ने एक फैक्ट्री बनाने के लिए लखनऊ के पास ही एक जमीन किराए के ऊपर ली और उस पर अपनी फैक्ट्री बनवाई,

फैक्ट्री के आसपास तीन प्लाट खाली पड़े थे गेट के सामने चाय का एक होटल और पान की दुकान थी…

हमारा नया नया काम था इसलिए हमको अक्सर रात देर हो जाती थी और फैक्ट्री ही में रात गुजारनी पड़ती थी..

Horror story in hindi

एक रात अचानक बारिश होने लगी हमने फैक्ट्री के एक लड़के को खाना और चाय लेने बाहर भेजा, थोड़ी देर के बाद वह खाना लेकर वापस आ गया, और सब लोग साथ मिलकर खाना खाने लगे, खाने के दौरान ही बातों बातों में उस लड़के ने कहा : मालिक साहब ! हमारी फैक्ट्री के छत के ऊपर शायद चौकीदार की बीवी या उसकी बेटी बारिश में लाल जोड़ा पहन कर अकेली नहा रही है…

हमने उससे कहा कि ज्यादा मत देखना, यह पठान लोग अपनी औरतों के बारे में बहुत सख्त होते हैं, कुछ गलत समझ लिया तो तुझे मार कर यही किसी खाली प्लाट में दफना देंगे, यह कहते हुए सभी लोग हंसने लगे..

खाना खाने के बाद हम लोग घर जाने के लिए गेट से निकले, बारिश भी रुक गई थी, अचानक हमारी नजर भी छत की तरफ गई तो वहां अभी तक लाल चादर ओढ़े कोई औरत बैठी हुई थी,

कब्रिस्तान हॉरर स्टोरी इन हिंदी,

दो-तीन दिन गुजर गए हमने इस बात पर ध्यान भी नहीं दिया, एक दिन फिर से अचानक बारिश होने लगी, इस बार बारिश बहुत तेज थी हमारे गोदाम की तरफ छत से पानी नीचे आने लगा, हमने जल्दी-जल्दी गोदाम का माल साइड में करवाया और लड़के को चौकीदार के पास भेजा कि उसे बता दो की ऊपर छत से पानी आ रहा है तो हम को ऊपर छत पर जाकर प्लास्टिक बिछाना है ताकि पानी गोदाम के अंदर ना आ सके,

उस वक्त हमारी हैरत की कोई इंतिहा ना रही जब लड़के ने वापस आ करके हमें बताया कि चौकीदार कह रहा है कि छत पर जाने का कोई रास्ता नहीं है आप खुद ही किसी सीढ़ी का इंतजाम करिए…

चौकीदार की इस जवाब पर हमें फौरन वह छत पर बैठी औरत याद आ गई, तो मैं खुद चौकीदार के पास गया उससे कहा कि यार ! तुम्हारी फैमिली जहांँ रहती है हम उसी तरफ से छत पर जाना चाहते हैं क्योंकि हमने तुम्हारी फैमिली की ही एक औरत को छत पर बैठा देखा था..

चौकीदार भी हैरान होकर कहने लगा : साहब जी ! हमारी फैमिली तो गांव में रहती है, छत पर तो कोई नहीं रहता और ना ही छत पर जाने का कोई रास्ता है तो ऊपर औरत कहांँ से आ गई…

Horror स्टोरी इन हिंदी,

यह सुनकर हमें डर तो लगा, लेकिन बारिश का पानी बराबर छत से नीचे आ रहा था और फैक्टरी का माल खराब होने का डर था_ इसलिए उसको रोकना था, तो हमने बराबर के घर वाले से सीडी़ मांगी और लड़कों को भेजा की छत पर जाकर प्लास्टिक बिछा दो, वह ऊपर गए और आ करके बताया कि छत पर कुछ कचरा था जिसकी वजह से पानी जमा होकर के नीचे फैक्ट्री में आ रहा था, हमने वह कचरा साफ कर दिया है और वहां पर प्लास्टिक बिछा दी है..

वह दिन तो सुकून से गुजर गया लेकिन अगले ही दिन वह औरत जिसको हमने लाल कपड़े में देखा था उसने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया..

अगले दिन सुबह हमारी फैक्ट्री का वही लड़का बाथरूम गया और वहांँ जाकर के वह जोर-जोर से चीखने लगा, वह अंदर से कह रहा था कि बाथरूम के बाहर वही लाल कपड़े वाली औरत उसे खड़ी घूर रही है..

हम जल्दी से वहां पहुंचे और उसे बताया कि यहांँ तो कोई नहीं है तुम बाहर आ जाओ उसने बाहर आ करके बताया कि दरवाजा बंद होने के बावजूद उसे अंदर से ऐसा लग रहा था बल्कि उसे नजर भी आ रहा था कि वह औरत दरवाजे के बाहर खड़ी उसे घूर रही है.. उसका पूरा जिस्म सुन हो गया था और वह हिल भी नहीं पा रहा था…

हॉरर स्टोरी सच्ची घटना

शाम को फिर से फैक्ट्री के एक मजदूर को महसूस हुआ कि जैसे उसके पास से कोई ठंडी हवा का झोंका बहुत तेजी से गुजरा है, मैं मशीन के पास खड़ा हुआ था मुझे भी साफ नजर आया कि वह लाल कपड़े वाली औरत मेरे पीछे खड़ी है मेरे जिसम में झुनझुनी सी आ गई.. जैसे तैसे वह दिन गुजरा लेकिन अगले दिन तो हमारे साथ कुछ ऐसा हुआ जिसके बारे में हम कभी सोच भी नहीं सकते थे…

अगले दिन हमारा एक मजदूर गोदाम में गया तो उसको ऐसा महसूस हुआ कि जैसे किसी ने उसके ऊपर से बहुत तेज छलांग लगाई है, वो पीछे दौड़ा तो लोडिंग वाली ट्राली से टकरा गया और उसका सिर फट गया हमने उसे अस्पताल में भर्ती किया और उसको समझा दिया कि किसी से कुछ ना बताएं वरना लोग मजाक बनाएंगे…

अब हमारे लिए यह मामला बहुत खतरनाक बन गया था हमने भी वह फैक्ट्री बंद कर दी और जिस ब्रोकर से यह जगह ली थी उसके ऑफिस पहुंच गए, उसे सारा किस्सा सुनाया.. और उससे साफ कह दिया कि हम यह जगह नहीं ले सकते, यहांँ हमारे मजदूरों की जान तक जाने का खतरा है…

New horror story



Read more :-

Leave a Comment