मुझे तलाक नहीं चाहिए। Husband wife Hindi Story|read now

5/5 - (1 vote)
Husband wife Hindi Story

Husband wife Hindi Story

एक औरत अपनी पति से तलाक ले रही थी, उसके दो बच्चे भी थें, औरत के वकील ने सारे पेपर तैयार कर लिए और अब सिर्फ उसके पति का उन पेपरों पर साइन करना बाकी था..

पति ने वकील से कहा : वकील साहब! मुझे पता है कि तलाक के पेपरों पर साइन करने के बाद सारी ज़िंदगी के लिए मैं अपनी बीवी बच्चों से दूर हो जाऊंगा,

इसलिए मेरी एक ख्वाहिश है कि पेपर पर साइन करने से पहले मैं अपनी पत्नी और बच्चों के साथ कुछ घंटे गुजारना चाहता हूंँ_ आप मेरी पत्नी से कह दो कि कल सुबह वो मेरे बच्चों को कोर्ट लेकर आ जाए, वहां से मैं इन सबको कुछ घंटो के लिए अपने साथ ले जाऊंगा और फिर वापस आकर इन तलाक के पेपरों पर साइन कर दूंगा..

वकील ने कहा ठीक है और फिर अगले दिन सुबह पति ने अपनी पत्नी और बच्चों को एक गाड़ी में बिठाया और अपने साथ घुमाने ले गया..

छोटा बेटा : पापा ! मुझे मामा के साथ अगली सीट पर बैठना है..

बेटी : नहीं पापा, मामा के साथ मुझे बैठना है इसको हटाओ यहां से..

पापा : अरे हां बेटा, आओ तुम दोनों लोग आकर आगे बैठ जाओ..

बेटा : पापा ! मुझे आइसक्रीम खाना है..

पापा : हां क्यों नहीं बेटा, मैं तो अपने मुन्ने को अपने हाथों से आइसक्रीम खिलाऊंगा,

पापा सभी को आइसक्रीम खिलाने के लिए एक रेस्टोरेंट में ले गए,

कभी पापा अपने हाथों से आइसक्रीम बच्चों को खिलातें और कभी मामा, पापा बराबर रुमाल से अपने बच्चों का मुंह साफ कर रहे थें और उनको पानी पिला रहे थें..

फिर पापा सबको पार्क ले गए_ बच्चे कभी पापा से गले लगते और कभी मामा से, पापा अपने बेटे और बेटी को गोद में उठाते और उनकी ख्वाहिशें पूरी करते..

बेटी : पापा ! हमें अपने घर जाना है हम नानी के घर नहीं जाएंगे वहांँ आपके बगैर मुझे बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगता है..

बेटा : हां पापा ! मुझे भी बिल्कुल नहीं अच्छा लगता है_ दोनों बच्चे अपने घर जाने की ज़िद करने लगें..

पापा : हां बेटा, हम अपने घर जरूर चलेंगे..

बेटा : पापा ! मुझे आपकी गाड़ी बहुत अच्छी लगती है नाना की गाड़ी नहीं अच्छी लगती, मैं बड़े होकर आपकी तरह गाड़ी खरीदूंगा, ये बहुत तेज चलती है..

पापा : ( आंखों में आंसू लिए ) हां बेटा,ठीक है पहले तुम जल्दी से बड़े हो जाओ..

Husband wife Hindi Story

काफी वक्त निकल चुका था वकील भी बार-बार फोन कर रहा था कि कोर्ट बंद होने वाला है जल्दी से वापस आ जाओ.. लेकिन बाप का अपनी बीवी बच्चों से बिछड़ने को दिल नहीं कर रहा था, बाप की आंखों से आंसू बहने लगें..

बेटी ने पापा को रोते हुए देखा तो पूछने लगी : पापा ! आप रो क्यों रहे हो..?

पापा : नहीं बेटा, मैं रो नहीं रहा हूँ, वो आंखों में कुछ चला गया था इसलिए आंसू आ गए..

वह सब कोर्ट पहुंच गए, गाड़ी खड़ी करके पति ने बच्चों को गाड़ी से उतारा, बच्चे रोने लगें कि हमें पापा के पास जाना है, पापा ने अपनी बेटी को गोद में उठा लिया और पत्नी व बेटे के पीछे चलने लगें..

उसकी पत्नी ने अपने बच्चों को प्यार से देखा, उसे एहसास होने लगा कि मेरे बच्चे अपने पापा से बहुत मोहब्बत करते हैं_

बच्चों ने कहा : पापा !आप ये हमें कहां ले जा रहे हैं ये हमारा घर नहीं है हमें अपने घर जाना है पापा..

पापा : बेटा ! अभी चलते हैं, यहां थोड़ा काम है मुझे..

कोर्ट के कमरे में पहुंचते ही वकील ने तलाक के पेपर पति के सामने रखते हुए कहा कि आप जल्दी से यहां पर दस्तखत कर दीजिए,

लेकिन पत्नी ने आगे बढ़कर वकील से कहा कि मुझे अपने पति से तलाक नहीं चाहिए मैं अपना केस वापस लेती हूंँ, मैं अपने घमंड की खातिर अपने बच्चों की ज़िंदगी तबाह नहीं करूंगी..

यह सुनकर पति अपनी पत्नी से लिपट गया और दोनों बहुत रोने लगें..

दोस्तों! अगर हम थोड़ा सा अपने घमंड को एक तरफ रख दें और किसी दूसरे के हालात सही करने के बजाय अपने खुद के हालात सही कर लें तो बहुत से रिश्ते टूटने से बच जाएंगे..

उम्मीद है कि आपको हमारी पोस्ट पसंद आई होगी इसलिए आपसे गुजारिश है कि अपना प्यारा सा कमेंट करना ना भूले…


Read more :-

1 thought on “मुझे तलाक नहीं चाहिए। Husband wife Hindi Story|read now”

Leave a Comment