खूबसूरत लड़की और जादूगर बाबा☠️ | Jadu horror Story in hindi

Rate this post

Jadu horror Story in hindi

  मेरा नाम महक है_ ईश्वर ने मुझे अच्छे पति के साथ-साथ बहुत ज्यादा खूबसूरती भी दी है जो भी मुझे देखता है मेरी खूबसूरती की तारीफ करते नहीं थकता_ मेरी शादी को 3 साल हो चुके हैं लेकिन अभी तक मैं औलाद की खुशी से महरूम हूँ, मेरे पति ने हर तरह से मेरा इलाज करवाया लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ…

आज सुबह जब मेरी सासू मां घर वापस आई तो वो बहुत ज्यादा खुश थीं_ मालूम करने पर बताया कि मोहल्ले में एक बंगाली बाबा आया है उसने बहुत सी औरतों की परेशानियां हल कर दी हैं_ तुम भी शाम को मेरे साथ उसके पास चलना हो सकता है उसके जादू से तुम भी किसी बच्चे की मां बन जाओ…”

मैं इन बाबाओं के पास जाना नहीं चाहती थीं क्योंकि मैंने इनके बारे में पहले ही बहुत सी बातें सुन रखी थी कि कैसे ये बाबा लोग मासूम लड़कियों को अपना शिकार बनाते हैं लेकिन सासू मांँ की बात के आगे मेरी एक ना चली और शाम को मुझे मजबूर होकर उस बंगाली बाबा के पास जाना पड़ा…

वो बाबा एक छोटी सी कुटिया में आंख बंद किए बैठा हुआ था_ वहांँ हर तरफ लाल बत्ती की रोशनी फैली हुई थी उसने अपने सामने एक आग जला रखी थी जिसमें वो बार-बार अपने हाथों से कोई चीज डाल रहा था…

मुझे वो देखने में कोई बाबा नहीं लग रहा था क्यों उसके अंदर बाबाओं वाली कोई बात नहीं थी_ वो तो एक 30- 32 साल का नौजवान लड़का था_ उसके कमरे में अजीब गंदी गंदी तस्वीरें लगी हुई थीं जिन्हें देखकर मुझे भी शर्म आ रही थी_ लेकिन सासू मां की बात पर मुझे यहांँ आना पड़ा था…

उस बाबा ने इशारे से सासु मांँ को कमरे से बाहर जाने को कहा और फिर मुझे इशारा करते हुए एक तरफ बिठा दिया, उसकी आंखें अभी भी बंद थीं_ मैं बैठी उसी को देख रही थी कि अचानक उसने अपनी लाल-लाल आंखे खोली,उसकी आंखों में मुझे शैतानी इरादे नजर आ रहे थें…

वो मुझे देखकर मुस्कुराया और कहा : लड़की ! तुम्हारी मुश्किल बहुत जल्द आसान हो जाएगी परेशान ना हो_ उसने एक डिब्बे से मुझे तीन खजूरें निकालकर दी और कहा कि आज रात इन खजूरों को ज़रूर खा लेना…

वो बाबा उठा और मेरे पास आकर मेरे हाथों को पकड़ लिया, मैंने एक झटके से ही अपने हाथ छुड़ा लिएं, वो बार बार मेरे गालों पर हाथ फेरना चाह रहा था लेकिन मैं उसका हाथ दूर कर देती थी_ आखिर मैं वहांँ से उठकर बाहर चली आई_ बाहर मेरी सासू मांँ खड़ी मेरे बाहर आने का इंतजार कर रही थीं, मुझे देखते ही उन्होंने पूछा : बेटी ! बाबा ने तुझे देख लिया..? मैंने हांँ करते हुए सर हिला दिया और फिर उनके साथ घर की तरफ चल दी…

शाम को जब मेरे पति घर आएं तो मैंने उन्हें सारी बातें बता दीं और ये भी कह दिया कि वो बाबा मुझे कोई पाखंडी बाबा लगता है अगर मैं दोबारा उसके पास गई तो शायद उसकी शैतानी हरकतों का शिकार बन जाऊं.. मेरे पति ने इन बातों को सुन तो लिया लेकिन ज्यादा ध्यान नहीं दिया और कहा : अरे ये तुम्हारा भ्रम होगा तुम तो हर एक पर शक ही किया करती हो..

रात का वक्त हो रहा था वो खजूरें मेरे पास ही रखी हुई थीं_ मैं सोच में मगन थी कि इन खजूरों को खाऊं या नहीं.. ? आखिर मैंने उन खजूरों को उठाकर खिड़की के बाहर फेंक दिया क्योंकि मुझे ये उस पाखंडी बाबा की कोई चाल लग रही थी…

रात के वही कुछ 1:00 बज रहे थें_ मेरे पति बहुत गहरी नींद में सो रहे थें लेकिन मुझे नींद नहीं आ रही थी मैं सिर्फ आंख बंद किए लेटी हुई थी, तभी अचानक कमरे का दरवाजा खुद-ब-खुद खुला और तेजी से बंद हो गया_ मैं बहुत डर गई और अपने पति को जगाना चाहा लेकिन वो तो बिल्कुल बेखबर सो रहे थें, जबकि वो ऐसा बेखबर कभी नहीं सोते थें…

मैं डरते हुए उठी और दरवाजे के पास जाकर देखा तो डर के मारे मेरी चीख निकल पड़ी_ दरवाजे के पास एक काली डरावनी बिल्ली बैठी हुई थी, उसकी हरी हरी आंखों से आग निकल रही थी और उसके मुंह से खून टपक रहा था_ वो मुझे देखते ही बहुत तेज तेज गुर्राने लगी_ मैं डरकर अपने पति की तरफ भागी और उन्हें जगाने लगी_ लेकिन पता नहीं क्यों वो उठने का नाम नहीं ले रहे थें…

तभी मैंने देखा कि वो बिल्ली गुर्राते हुए मेरी तरफ आ रही है_ अचानक उस बिल्ली की शक्ल बदलने लगी और फिर देखते ही देखते वो उस बंगाली बाबा की शक्ल में बदल गई, अब मेरे कमरे में वो बंगाली बाबा खड़ा था और मुझे देख देखकर मुस्कुरा रहा था…

ये सब देख मैं समझ गई थी कि वो कोई बाबा नहीं है बल्कि कोई जादूगर है_ मेरा शक उसके बारे में सही निकला कि ये मुझे अपना शिकार बनाना चाहता है, मुझे देखते ही उसने कहा : लड़की ! तुम होश में हो तो इसका साफ मतलब है कि तुमने मेरी दी हुई खजूरें नहीं खाई हैं वरना तुम इस वक्त बेहोश पड़ी होती फिर भी मैं हार नहीं मानूंगा…

इतना कहते हुए वो बाबा आगे बढ़ा और मुझे बहुत तेज धक्का देकर सोफे पर गिरा दिया और फिर मेरे ऊपर लेट गया_ उसके सामने मैं बिल्कुल बेबस थी पता नहीं किसी अंजान ताकतों ने मेरे हाथों को जकड़ रखा था_ जब मैं बिल्कुल हार गई तो मैंने ईश्वर को याद करना शुरू कर दिया और उसके नाम का ज़िक्र करने लगी_ मुझे ईश्वर का ज़िक्र करता देख वो बंगाली बाबा मुझसे दूर हो गया…

ये देखकर मैं बहुत तेज तेज ज़िक्र करने लगी, वो बंगाली बाबा मुझसे पीछे हटता जा रहा था और कह रहा था कि ऐ लड़की ! ये तुम जो कुछ भी पढ़ रही हो उसे पढ़ना बंद करो वरना मैं तुम्हें मार डालूंगा, मैं समझ गई थी कि मेरे ज़िक्र करने से उसका जादू टूटता जा रहा है…

देखते ही देखते वो बंगाली बाबा फिर से उसी बिल्ली की शक्ल में बदल गया और फिर मैंने देखा कि वो बिल्ली सामने छत की तरफ भागी है और फिर ना जाने कहांँ गायब हो गई..?

उस बिल्ली के जाती ही मेरे पति को होश आने लगा_ होश में आते ही और वो दौड़कर मेरे पास आ गएं और मुझे गले से लगाते हुए कहा : महक ! वो बंगाली बाबा तुम्हारे साथ क्या करना चाहता था..?

उनके इस सवाल पर मैं समझ गईं कि उस बंगाली बाबा ने मेरे पति पर जादू करके उन्हें जकड़ दिया था वो सो नहीं रहे थें बल्कि किसी अनजान ताकतों में जकड़े हुए थें और वो सबकुछ देख रहे थें जो मेरे साथ कमरे में हो रहा था.. मैंने उन्हें सबकुछ बता दिया तो उन्होंने मुझे गले से लगाते हुए कहा : ” ईश्वर का शुक्र है कि उसने तुम्हारी इज्जत बचा ली…”

मैं खुश थी कि चलो मेरे पति को तो यकीन हो गया कि वो बाबा नहीं बल्कि एक पाखंडी जादूगर है_ और फिर हम मियां- बीवी बहुत खुशी खुशी एक दूसरे से लिपटकर सारी रात जवानी के मज़े लेते रहें…

अगले दिन सुबह मेरे पति ने अपनी माँ से साफ कह दिया कि आज के बाद मेरी इजाजत के बगैर महक को आप कहीं नहीं ले जा सकती हैं, अगर ईश्वर को मंजूर होगा तो वो मुझे औलाद की खुशी देगा वरना मैं जिस हालत में भी हूंँ अपनी महक के साथ खुश हूँ…

शायद कल की रात में हम दोनों मियां बीवी का आपस में लिपटकर लेटना ईश्वर को बहुत ज्यादा पसंद आ गया था इसीलिए उसने मुझे अगले 9 महीनों में एक औलाद की खुशी नसीब कर दी…

आज इस बात को गुजरे 6 साल हो चुके हैं _ मैं दो बच्चों की मांँ हूंँ_ एक का नाम मैंने ” सुहेल ” और दूसरे का ” अनम ” रखा है, हम पति-पत्नी बहुत खुशी की ज़िंदगी गुजार रहे हैं….

खूबसूरत लड़की और जादूगर बाबा☠️ | Jadu horror Story in hindi



Read more :-

Leave a Comment