घरवालों की गलतफहमी की वजह से उसकी मौत हुई | Sad story

Rate this post

Sad story

उस लड़की के पेट में दर्द होना शुरू हो गया, उसने अपने घर वालों को बताया

घर वालों ने जवाब दिया परेशान ना हो, यह दर्द जल्द ही खत्म हो जाएगा ।

दर्द बढ़ता गया 1 दिन गुजर गया और दूसरा दिन भी … लेकिन दर्द कम नहीं हुआ…

2 दिनों के बाद भाइयों ने देखा कि दर्द बढ़ता जा रहा है तो वो उसे लेकर डॉक्टर के पास ले गए…

डॉक्टर ने देखा कि उसका पेट तो फूलता जा रहा है..

डॉक्टर ने चेकअप के बाद घरवालों से बताया कि “आपकी लड़की प्रेग्नेंट है”…

बाप, भाई और पूरे घरवाले चौक गए : ” प्रेग्नेंट”..? यह कैसे…?

सब लोग उस लड़की को घर वापस ले आए.. सारी फैमिली के लोग ( भाई और बाप ) उस लड़की को घेर कर खड़े हो गए..

उसके बाद क्या हुआ..? इस मासूम लड़की को उन लोगों ने मारना शुरू कर दिया..

उसके पेट में बहुत दर्द हो रहा था.. लेकिन भाइयों ने उस पर थोड़ा सा भी रहम नहीं किया, वो बराबर उसको मारते रहे..

” तेरी तो अभी शादी भी नहीं हुई, तूने कितना शर्म का काम हम लोगों के लिए किया है…” भाइयों ने मारते हुए कहा,

” अब हम लोगों को क्या मुंह दिखाएंगे…? लोगों को क्या जवाब देंगे…?”

वो लड़की बहुत रो रही थी और रोते हुए कह रही थी ” मैंने कुछ नहीं किया, ईश्वर की कसम, मैंने कुछ नहीं किया “…

उसके पेट में बहुत दर्द हो रहा था लेकिन भाई बराबर मारते जा रहे थे.. ” तुमने हम लोगों को मुंह दिखाने के काबिल भी नहीं रखा अब हम लोगों को क्या जवाब देंगे “…

और जब यह लड़की मार खाते-खाते बहुत कमजोर पड़ने लगी और अपने होश खो बैठी तो उसने बड़ी धीरे आवाज में अपने मां-बाप से कहा :

” माँ, बाबा ! मैंने कुछ नहीं किया, मैं निर्दोष हूं, मैं ईश्वर की कसम खाती हूं मैंने कुछ नहीं किया, आप लोगों को कुछ गलतफहमी हो गई है, मुझे बचा लो…

वह बेहोश होकर गिर पड़ी.. उसे अस्पताल ले जाया गया..

डॉक्टरों ने उसे एमरजेंसी वार्ड में भर्ती किया.. उसकी हालत बहुत खराब थी..

सारे चेकअप के बाद जो रिपोर्ट निकली वह सबको चौंका देने वाली थी..

ओह.. सभी जाचों के बाद साबित हुआ कि लड़की को अपेंडिक्स की शिकायत थी, वह प्रेग्नेंट नहीं थी…

यह सुनकर बाप और भाइयों के होश उड़ गए…

भाइयों ने डॉक्टर के सामने हाथ जोड़े : “आपसे जो हो सके, जितना हो सके आप करें, मेरी बहन को बचा लो..”

लेकिन डॉक्टर ने जवाब दिया : आप लोग बहुत लेट हो गए, अगर आप पहले ले आते तो शायद हम उसे बचा लेते, अब कुछ नहीं हो सकता…

एक शब्द जिसे वो लोग कभी नहीं भूल पाएंगे “मैंने कुछ नहीं किया और मैं निर्दोष हूं और तुम लोगों ने मेरे साथ गलत किया है..”

वह पेट की तकलीफ और भाइयों की मार खाते-खाते दर्द से मर गई..

मौत से पहले उसके आखिरी शब्द यही थे “मैं निर्दोष हूँ बाबा, मैंने कुछ नहीं किया”.…..

Sad story



Read more :-

Leave a Comment